GST क्या है

एक मजबूत भारत क सपना अब साकार होने जा रही है बस कुछ महीने फिर एक मजबूत भारत आपको पता नहीं होगा की भागलपुर में स्मार्ट सिटी का काम बहुत तेजी से चल पड़ा..वहा फ्री WiFi की सुबिधा मिलने लगी Sensor Lights, विमान सेवा जल्द आरम्भ...हो सकता है कल यह सभी सेवा हमारे शहर में भी हो....ये तभी संभव है जब हमारा देश मजबूत होगा...
 एक समझौते के तहत नासा और इसरो मिल के एक निसार (उपग्रह) प्रक्षेपण करने जा रही है प्रक्षेपण तिथि 2020-21 (NASA-ISRO Synthetic Aperture Radar or NISAR).....जो हमारे Information Technology को बहुत आगे ले कर जाएगी...इसके बारे में विस्तार से फिर कभी.....आज हम GST की बात करेगें...तो आज जानते है इसे
                   
GST (जीएसटी) एक अप्रत्यक्ष कर है...
जीएसटी के तहत वस्तुओं और सेवाओं पर एक समान कर लगाया जाता है, जहां जीएसटी लागू नहीं है, वहां वस्तुओं और सेवाओं पर अलग-अलग टैक्स लगाए जाते हैं
                            सरकार अगर इस बिल को 2016 से लागू कर देती तो हर सामान और हर सेवा पर सिर्फ एक टैक्स लगेगा यानी वैट टैक्स, एक्साइज और सर्विस टैक्स की जगह पर केवल एक ही टैक्स लगेगा
क्या होंगे इसके फायदे ?
अब हम जीएसटी के फायदे के बारे में जानेंगे की जीएसटी के क्या-क्या फायदे है जीएसटी लागू होने से सबसे बड़ा फायदा आम आदमी को होगा
पूरे देश में किसी भी वस्तु या सामान खरीदने या किसी भी प्रकार की सेवा लेने पर केवल एक ही टैक्स चुकाना पड़ेगा। यानी पूरे देश में किसी भी वस्तु की कीमत एक ही रहेगी। जैसे मान लीजिये अगर आप कोई गाड़ी दिल्ली में खरीदते हैं तो उसकी कीमत अलग होती है, वहीं किसी और राज्य में उसी गाड़ी को खरीदने के लिए अलग कीमत चुकानी पड़ती है. इसके लागू होने से कोई भी सामान किसी भी राज्य में एक ही रेट पर मिलेगा.
अगर GST लागू हो जाता है तो कई बार टैक्स देने से छुटकारा मिल जाएगा
इससे कर की वसूली करते समय कर विभाग के अधिकारियों द्वारा कर में हेराफेरी की संभावना भी कम रहेगी.
एक ही व्यक्ति या संस्था पर कई बार टैक्स लगाने की जरूरत नहीं पड़ेगी, सिर्फ इसी टैक्स से सारे टैक्स वसूल कर लिए जाएंगे. इसके अलावा जहां कई राज्यों में राजस्व बढ़ेगा तो कई जगह कीमतों में कमी भी होगी...
कम होगी सामान की कीमत, इसके लागू होने से टैक्स का ढांचा पारदर्शी होगा जिससे काफी हद तक टैक्स विवाद कम होंगे.
GST लागू होने के बाद राज्यों को मिलने वाला वेट टैक्स, मनोरंजन कर, लग्जरी टैक्स, लॉटरी टैक्स, एंट्री टैक्स आदि भी खत्म हो जाएंगे।
फिलहाल जो सामान खरीदते समय लोगों को उस पर 30-35 प्रतिशत टैक्स के रूप में चुकाना पड़ता है वो भी घटकर 20-25 प्रतिशत पर आ जाने की संभावना हो जायेगी...
यह तो हो गई GST के फायदे की बात लेकिन अब हम इसके नुकसान के बारे में भी जानेंगे... अब आप सोच रहे होंगे की GST के लागु होने पर क्या नुकसान हो सकता है । तो आपका उत्तर हम आपको विस्तार से देंगे आगे पड़े -
आइये जानते है की GST लागु होने पर किसको होगा नुकसान
जीएसटी लागू होने से केंद्र को तो फायदा होगा लेकिन राज्यों को इस बात का डर था कि इससे उन्हें नुकसान होगा क्योंकि इसके बाद वे कई तरह के टैक्स नहीं वसूले पाएंगे जिससे उनकी कमाई कम हो जाएगी. गौरतलब है कि पेट्रोल व डीजल से तो कई राज्यों का आधा बजट चलता है. इस बात को ध्यान में रखते हुए केंद्र ने राज्यों को राहत देते हुए मंजूरी दे दी है कि वे इन वस्तुओं पर शुरुआती सालों में टैक्स लेते रहें. राज्यों का जो भी नुकसान होगा, केंद्र उसकी भरपाई पांच साल तक करेगा।
दुनिया में कितने फीसदी तक है जीएसटी?
- जीएसटी 150 देशों में लागू हो चुका है। लेकिन रेट अलग-अलग हैं।
- जापान में 5%, सिंगापुर में 7%, जर्मनी में 19%, फ्रांस में 19.6% है।
- स्वीडन में 25%, ऑस्ट्रेलिया में 10%, कनाडा में 5%, न्यूजीलैंड में 15% और पाकिस्तान में 18% तक है।
क्या है इससे जुड़ा इंटरेस्टिंग फैक्ट...?
अंत में एक महत्वपूर्ण बात यह है की यह एक फैक्ट है कि पूरी दुनिया में जीएसटी लागू करने के बाद हुए चुनावों में कोई भी सरकार दोबारा नहीं चुनी गई है...ये जानते हुए मोदी सरकार इतना बड़ा फैसला ले चुके...क्यों की ये चाहते है की आर्थिक द्रष्टिकोण से हमारा ये भारत देश बहुत मजबूत हो सके....
- इसकी वजह यह है कि जीएसटी लागू होने के बाद शुरुआती सालों में कुछ चीजें महंगी हो जाती हैं.... इसका खमियाजा सरकार को भुगतना पड़ता है....
लेख अच्छा लगा तो अपना कमेन्ट जरुर दे...

#bhaskar...#Hs

You May Also Like

0 comments